Thursday, 28 July 2016

पुदीने के औषधीय फायदे और नुकसान - Benefits of Mint in Hindi

पोदिना जिसे  मिंट के नाम से भी जाना जाता है इसके फायदे अनेक है। ये खाने को स्वादिस्ट बनाने के साथ साथ माउथफ्रेशनर  का भी काम करता है। पुदीना हाजमे के लिए भी फायेदेमंद होता है और भोजन को पचाने में काफी मदद करता है | इसके अलावा पुदीना के और भी कई फायदे है जो की निचे पुरे विस्तार में दी हुई है | तो चलिए आज जानते है की किस तरह से पुदीना के पत्ते हमारे स्वास्थ के लिए लाभदायक हैं|
(पुदीने के औषधीय फायदे और नुकसान - Benefits of Mint in Hindi)
पुदीने के औषधीय फायदे :-
  • हिचकी से राहत  कई बार हम देखते है की हमें अचानक हिचकी आने लगती है और फिर खुद ही बंद भी हो जाती है। कभी कभी हिचकी काफी देर तक बंद नहीं होती है जिसकी वजह से हमें बहुत परेशानी होती है। आम तौर पर लोग  हिचकी बंद करने के लिए पानी पीते है। ऐसे में अगर आप पोदीने के पत्तो को चबायेंगे तो आपको हिचकी आना बंद हो जायेगा।  
  • मुहासों से राहत  मुहासों का होना आम बात है ये किसी को भी हो सकता है। ये कोई बहुत बड़ी समस्या नहीं है और पिम्पले का इलाज घर पर भी संभव है   आम तौर पर यह मौसम, पानी और खाने के बदलाव की वजह से होता है। ये पुरुष या महिला किसी को भी हो सकता है। इसको ठीक करने के बहुत से घरेलु उपाय है जिनमे से एक पोदीना का पत्ता भी है। अगर आप पोदीने के पत्तो को पिस कर उसके लेप को चेहरे पर लगाए, 15 मिनट के बाद ठंडे पानी से धो ले इससे आपके चेहरे को ठंडक मिलेगी और आपके मुहासे भी ख़त्म हो जाएंगे।
  • उल्टी से राहत अक्सर हम जब कभी भी बाहर का खाना खाते है या हमें बदहजमी हो जाता है तो हमें उल्टियाँ होने लगती है। अगर आपको बार बार उल्टी हो रहा हो या उल्टी जैसा लग रहा हो तो आप पोदीने का रस पिए, 2 से 3 बार ऐसा करने से आपका बार बार उल्टी होना या उल्टी जैसा लगना बंद हो जियेगा.
  • दाद,घाव या बिच्छु काटने पर फायदा कई बार हम देखते है की बच्चे खेलते खेलते गिर जाते है और उनको हांथ या पैर में चोट लग जाता है। कभी कभी मामूली सा चोट घाव हो जाता है।अगर आपको कहीं चोट लग जाये या फिर किसी तरह का घाव हो जाए तो आप उस जगह पर पोदीने के पत्तो का लेप लगाए इससे आपका घाव ठीक हो जायेगा।बहुत से लोगों का मानना है की बिच्छु के काटने पर पोदीने का लेप लगाना चाहए इससे जहर जल्दी उतरता है।
  • पेट दर्द से राहत  ज्यादातर बिमारियों का कारण होता है गलत खान पान। पेट दर्द के भी बहुत से कारण हो सकते है जैसे जरुरत से ज्यादा  खा लेना या फिर पेट में गैस हो जाना। बच्चो के पेट में दर्द होने का कारण पेट में कीड़ा भी हो सकता है। इसके लिए आपको बार बार डॉक्टर के पास जाने की जरुरत नहीं है। आप घर पर भी पेट दर्द  का इलाज़ कर सकते है।
  • 1-एक – एक चम्मच पुदिने और नींबू का रस लें।
  • 2-आधा चम्मच अदरक का रस मिलाए।
  • 3-फिर उसमे थोड़ा सा काला नमक मिलाए।
  • 4-फिर इस मिश्रण को दिन में २ से ३ बार पियें इससे आपको पेट के दर्द से राहत मिलेगी।
  • गर्मी से राहत गर्मी के मौसम में कई बार ना चाहते हुए भी हमें किसी ना किसी काम की वजह से धुप में बहार निकलना पड़ता है। तेज धुप, गर्म हवा की वजह से हमें लू लगने की संभावना रहती है। इसलिए अगर आपको गर्मी से लू लग गया हो तो आप पोदीने का जूस पिए इससे आपको गर्मी और लू दोनों से राहत मिलेगी।
  • मुंह के बदबू से राहत  मुंह से बदबू का आना बहुत ही शर्मनाक बात है जो आपको किसी भी महफ़िल में बेज्जत करा सकती है। मुंह से बदबू आने का बहुत कारण हो सकता है।जब कभी आप बहुत देर भूखे पेट रहते है या फिर आपके दांतों से खून निकलता है तो आपके मुंह से बदबू आने लगती है। मुंह के बदबू को दूर करने के लिए आप पोदीने के पत्तो को चबाएं या फिर पोदीने का रस निकाल कर उससे सुबह शाम कुल्ली करे ऐसा करने से आपको मुंह के बदबू से राहत मिलेगी।
  • सर्दी,खांसी से राहत अक्सर हम देखते है की मौसम में बदलाव के कारण या फिर कभी कभी जादा ठंडी चीज़ खा लेने के कारण हमे सर्दी और खांसी जैसे बिमारियों का सामना करना पड़ता है। इसका इलाज़ आप घर पर भी कर सकते है। इसके लिए आप पोदीने के पत्तो के साथ काली मिर्च और नमक मिलकर चबाएं ऐसा करने से आपको सर्दी और खांसी दोनों से राहत मिलेगी।
  • पुदीने के औषधीय फायदे और नुकसान - Benefits of Mint in Hindi)

Related Recipe