हल्दी के औषधीय फायदे और नुकसान - Benefits of Turmeric in Hindi

हल्दी के गुणों से अमूमन हर कोई परिचितहोता है। भारतीय खाने में हल्दी का उपयोग पाचन तंत्र को सुधारने में, सूजन कम करने में और शरीर के शोधन में हजारों सालों से उपयोग किया जा रहा है। इसमें पाया जाने वाले तत्व करक्यूमिनोइड्स और वोलाटाइल तेल कैंसर रोग से लड़ने के लिए भी जाने जाते हैं।
सर्दियों के मौसम में हल्दी की गांठ का उपयोग सबसे अधिक लाभदायक है और यह समय हल्दी से होने वाले फायदों को कई गुना बढ़ा देता है क्योंकि कच्ची हल्दी में हल्दी पाउडर की तुलना  में ज्यादा गुण होते हैं।शोध से साबित हो चका है कि हल्दी में लिपोपॉलीसेच्चाराइड नाम का तत्व होता है इससे शरीर में इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। हल्दी इस तरह से शरीर में बैक्टेरिया की समस्या से बचाव करती है। यह बुखार होने से रोकती है। इसमें शरीर को फंगल इंफेक्शन से बचाने के गुण होते है। (हल्दी के औषधीय फायदे और नुकसान - Benefits of Turmeric in Hindi)
हल्दी के औषधीय फायदे :-
    उम्र घटाए - हल्दी चेहरे पर जम रही अनचाही परतों को अपने औषधीय गुणों द्वारा कम करती है और आपकी बढ़ती उम्र का पता नहीं लगने देती।उपाय- इसके लिए आप तीन चम्मच बेसन में एक चौथाई चम्मच हल्दी और पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं। पानी की जगह आप कच्चा दूध या दही भी मिला सकती हैं। चेहरे पर अच्छे से लगाकर इसे सूखने दें और उसके बाद गुनगुने पानी से हल्का मसाज करते हुए धो लें।

    झुर्रियां - चेहरे पर पड़ रही झुर्रियों के कारण आप समय से पहले ही बूढ़ी दिखने लगती हैं। हल्दी को आप अलग-अलग तरह की चीजों में मिलाकर इस्तेमाल करेंगी, तो आपके चेहरे पर पड़ रही झुर्रियां दूर हो जाएंगी और त्वचा दमकेगी।ऐसे करें हल्दी का उपयोग– कच्चे दूध, टमाटर का रस, चावल का आटा और हल्दी एक साथ मिलाकर पेस्ट बनाएं। इसे चेहरे पर लगाकर कुछ देर सूखने दें। दूध में मौजूद लैक्टिक एसिड आपकी डेड हो रही स्कीन को रिपेयर करता है।

    छाछ और गन्ने के रस में हल्दी मिलाकर पीने से आंखों के नीचे पड़ रहे काले घेरे और झुर्रियां ठीक होती हैं।

    हल्दी और शहद का पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाने से त्वचा के पोर्स (रोम छिद्र) खुल जाते हैं, जिससे त्वचा को भरपूर ऑक्सीजन मिलती है और त्वचा फिर से जवां दिखने लगती है। मुहांसे और उसके निशान ठीक होते हैं, स्ट्रेच मार्क्स हटते हैं, जलने के निशान मिटते हैं, फेशियल होता है, फटी एड़ियां ठीक होती हैं।

    दूध और हल्दी - रोग को पास ना आने दे
  • हल्दी वाला दूध बनाने का तरीका (गर्मियों में एक चौथाई चम्मच और सर्दियों में आधा चम्मच हल्दी एक गिलास दूध में उबाल कर उसे फेंट का खूब झाग बनाकर पीना लाभकारी होता है)
  • हडि्डयों को पहुंचाता है फायदारोजाना हल्दी वाला दूध लेने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मिलता है। हड्डियां स्वस्थ और मजबूत होती है। यह ऑस्टियोपोरेसिस के मरीजों को राहत पहुंचाता है।
  • गठिया दूर करने में है सहायकहल्दी वाले दूध को गठिया के निदान और रियूमेटॉइड गठिया के कारण सूजन के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। यह जोड़ो और पेशियों को लचीला बनाकर दर्द को कम करने में भी सहायक होता है।
  • टॉक्सिन्स दूर करता है आयुर्वेद में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल शोधन क्रिया में किया जाता है। यह खून से टॉक्सिन्स दूर करता है और लिवर को साफ करता है। पेट से जुड़ी समस्याओं में आराम के लिए इसका सेवन फायदेमंद है।
  • कीमोथेरेपी के बुरे प्रभाव को कम करते हैं एक शोध के अनुसार, हल्दी में मौजूद तत्व कैंसर कोशिकाओं से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोकते हैं और कीमोथेरेपी के दुष्प्रभावों को कम करते हैं।
  • कान के दर्द में आराम मिलता है हल्दी वाले दूध के सेवन से कान दर्द जैसी कई समस्याओं में भी आराम मिलता है। इससे शरीर का रक्त संचार बढ़ जाता है जिससे दर्द में तेजी से आराम होता है।
    चेहरा चमकाने में मददगार रोजाना हल्दी वाला दूध पीने से चेहरा चमकने लगता है। रूई के फाहे को हल्दी वाले दूध में भिगोकर इस दूध को चेहरे पर लगाएं। इससे त्वचा की लाली और चकत्ते कम होंगे। साथ ही, चेहरे पर निखार और चमक आएगी।
    ब्लड सर्कुलेशन ठीक करता है आयुर्वेद के अनुसार, हल्दी को ब्लड प्यूरिफायर माना गया है। यह शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को मजबूत बनाता है। यह रक्त को पतला करने वाला आैर लिम्फ तंत्र और रक्त वाहिकाओं की गंदगी को साफ करने वाला होता है।
    शरीर को सुडौल बनाता है रोजाना एक गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर लेने से शरीर सुडौल हो जाता है। दरअसल गुनगुने दूध के साथ हल्दी के सेवन से शरीर में जमा फैट्स घटता है। इसमें उपस्थित कैल्शियम और अन्य तत्व सेहतमंद तरीके से वेट लॉस में मददगार हैं।
    स्किन प्रॉब्लम्स में है रामबाण हल्दी वाला दूध स्किन प्रॉब्लम्स में भी रामबाण का काम करता है।
    मधुमेह रोगियों के लिए हल्दी बेहद फायदेमंद है लेकिन ज्यादा हल्दी के सेवन से ब्लड शुगर काफी अधिक कम हो जाती है अगर आपको पहले से ही एनीमिया की शिकायत है तो, हल्दी का सेवन कम कर दें.
    कच्ची हल्दी से बनी चाय अत्यधिक लाभकारी पेय है इससे इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।हल्दी में वजन कम करने का गुण पाया जाता है। इसका नियमित उपयोग से वजन कम होने की गति बढ़ जाती है।शोध से साबित होता है कि हल्दी लीवर को भी स्वस्थ रखती है। हल्दी के उपयोग से लीवर सुचारु रुप से काम करता रहता है।
    (हल्दी के औषधीय फायदे और नुकसान - Benefits of Turmeric in Hindi)
benefits of turmeric tea, benefits of turmeric with milk, turmeric benefits for skin, turmeric supplement, how to take turmeric, how to use turmeric, what are the side effects of turmeric?, turmeric dosage, What are the benefits of taking tumeric?, What does tumeric do for your health?, Can turmeric help you lose weight?, Are there any side effects to taking turmeric?, कची हल्दी के फायदे, हल्दी के नुकसान, हल्दी के पत्ते का उपयोग, हल्दी के फायदे स्किन के लिए, हल्दी के प्रकार, हल्दी दूध के फायदे, हल्दी के उपाय, हल्दी का पानी
Share This Recipe with Friends:-