Skip to main content

मोटी हरी मिर्च का अचार कैसे डालें - Hari Mirch Ka Achar Recipe

जिनको तीखा स्वाद पसंद है वह हमेशा भोजन के समय भरवां हरी मिर्च का अचार जरूर लेते हैं। राजस्थानी हरी मिर्च में सरसों का तेल और कुछ मसालों को मिलाकर इस अचार को घर पर आसानी से बनाया गया है। इस मारवाड़ी अचार को डालने की विधि,सामिग्री और उपयोगी सुझाब जानने के लिए पढ़ें....
 Hari Mirch Ka Achar Banaane Ki Vidhi
(हरी मिर्च का अचार रेसिपी - Hari Mirch Ka Achar Banaane Ki Vidhi)
हरी मिर्च का अचार बनाने की सामग्री:-
  • हरी मिर्च अचार वाली - 500 ग्राम
  • धनिया - 2 चम्मच
  • सोंफ - 2 चम्मच
  • मैथी - 2 चम्मच
  • हींग - 1/2 चम्मच से कम
  • हल्दी पाउडर - 2 चम्मच
  • गरम मसाला - 1 चम्मच
  • आमचूर पाउडर - 4 चम्मच
  • नमक स्वादानुसार
  • सरसों का तेल - 1 कप
हरी मिर्च का अचार बनाने की विधि:-
  • तजा हरी मिर्च अचार के लिये लेते हैं, हरी मिर्च को अच्छी तरह धो लीजिये, सुखाइये, और साफ कपड़े से पोंछ कर और उनका डंठल हटा कर इस तरह ऊपर से नीचे तक चीरा लगाइये कि मिर्च एक तरफ से पूरी तरह जुड़ी रहे।
  • धनिया , मैथी, सौंफ को गरम तवे पर डाल कर हल्का सा भून लीजिये, जिससे मसालों की नमी दूर हो जाय, मसाले को ठंडा होने पर मिक्सी से हल्का दरदरा पीस कर लीजिये।
  • हल्दी, गरम मसाला, हींग, अमचूर और नमक भी इसी दरदरे मसाले में मिला लीजिये. मसाले को किसी बर्तन में निकाल लीजिये।
  • तेल को कढ़ाई में डालकर धुआँ निकलने तक गरम कर लीजिये।
  • फिर तेल को थोड़ा ठंडा होने के बाद तैयार सूखे मसाले में थोड़ा -थोड़ा करके मिला लीजिये, बाकी तेल को अलग बचा लें।
  • एक एक मिर्च उठाइये और मसाला लीजिये, मिर्च के अन्दर मसाला भर कर किसी प्लेट में रखते जाइये।
  • सारी मिर्च इसी तरह भर कर तैयार कर लीजिये अब बचा हुआ तेल भी मिर्च के ऊपर डाल दीजिये।
  • भरी हुई मिर्च को आप पतले कपड़े से ढककर धूप में भी रख सकते है।
  • यदि धूप न हो तो कमरे के अन्दर ही प्लेट को रखिये।
  • अचार को आप अभी भी खा सकते हैं लेकिन अचार का असली स्वाद 3 -4 दिन में तैयार हो कर मिलेगा।
  • (हरी मिर्च का अचार रेसिपी - Hari Mirch Ka Achar Banaane Ki Vidhi)
उपयोगी सुझाव:-
  • अचार बनाने के लिए जो भी बर्तन आप उपयोग में लाएं उन सब का सूखा और साफ़ होना जरूरी है क्योंकि पानी के संपर्क से अचार जल्दी खराब हो जाता है।
  • अचार को आप हमेशा कांच या चीनी मिट्टी के कंटेनर में स्टोर करें।
  • 15 दिन के अंतराल में आप अचार के डिब्बे को एक सूखी चम्मच से चला दे जिससे आचार अच्छी तरह उपर नीचे हो जाये।
  • जो अचार हमेशा तेल में डूबा रहता है उसकी shelf-life ज्यादा होती है इसलिए आप ध्यान रखें कि अचार हमेशा तेल में डूबा रहे।
  • (हरी मिर्च का अचार रेसिपी - Hari Mirch Ka Achar Banaane Ki Vidhi)