Skip to main content

मराठी पूरन पोली बनाने की विधि- Marathi Puran Poli Recipe in Hindi

हम आपको मराठी पूरन पोली बनाने की विधि (रेसिपी) हिंदी में स्टेप बाई स्टेप बता रहे हैं। श्री गण पति जी के आगमन में महाराष्ट्र के घर घर में अनेको मीठे और नमकीन पकवान बनाये जाते है। पूरन पोली उन्ही मे से एक है। तो चलिए हम भी आज पूरन पोली बनाते है
मराठी पूरन पोली बनाने की विधि- Marathi Puran Poli Recipe in Hindi
मराठी पूरन पोली बनाने के लिए निम्न सामिग्री की आवश्य्कता होती है.. मराठी पूरन पोली बनाने के लिए रेसिपी को फॉलो करें.
(मराठी पूरन पोली बनाने की विधि- Marathi Puran Poli Recipe in Hindi)
पूरन पोली बनाने की सामग्री:-
  • 2 कप गेहू का आटा
  • 2 चम्मच शुद्ध घी
  • भरावन की सामग्री -
  • 1 कप चने की दाल
  • 2 चम्मच शुद्ध घी
  • एक चम्मच दूध में केसर भीगी हुई
  • 1 कप चीनी
  • 1/2 चम्मच इलाइची पाउडर
  • 1 चुटकी जायफल पाउडर
  • 1 चुटकी जाबित्री पाउडर
पूरन पोली बनाने की विधि:-
मराठी पूरन पोली बनाने की विधि- Marathi Puran Poli Recipe in Hindi
  • सबसे पहले आटे को छान कर उसमे घी डाले और हाथो से खूब अच्छी से मिक्स कर ले। अब थोड़ा - थोड़ा पानी डाल कर मुलायम आटे की तरह गूथ ले। और 15 मिनट के लिए अलग रख दे।
  • अब दाल को कुकर में पानी डाल कर 2-3 सिटी आने तक पकाये, गैस बंद करके कुकर को ठंडा होने दे।
  • फिर ढक्कन खोले अब दाल के ऊपर का पानी निकाल दे।
  • चम्मच की सहायता से अच्छी तरह मेश करदे।
मराठी पूरन पोली बनाने की विधि- Marathi Puran Poli Recipe in Hindi
  • अब एक पेन में घी गरम करके दाल और चीनी को डाल कर धीमी आँच पर 20 मिनट या मिश्रण के गाड़ा होने तक लगातार चलाते हुए पकाये।
  • अब आप इस मिश्रण में इलाइची, जायफल, जाबित्री, पाउडर और भीगी हुई केसर डाल कर मिला ले।
  • इसे आप ठंडा होने दे, अब आप गुथे हुए आटे की लोई बनाकर पूरी के आकर में बेल ले।
  • अब पूरी पर भरावन वाला मिश्रण रख कर बंद करदे और दुबारा पूरी बेल ले।
  • अब एक तवा गरम करके पूरी डाले। घी डालते हुए दोनों तरह से सेके।
  • इसी तरह सारी पूरन पोली तैयार करले। लीजिये तैयार होगयी आपकी स्वादिस्ट पूरन पोली आप इसे गरमा गरम सर्व करे।
  • (मराठी पूरन पोली बनाने की विधि- Marathi Puran Poli Recipe in Hindi)
उपयोगी सुझाव:-
  • पूरन पोली में आप चीनी की जगह गुड़ का प्रयोग करके इसको पारम्परिक रेसिपी भी बना सकती हैं।
  • चने की दाल की जगह हम अरहर (तुअर) दाल का भी प्रयोग इच्छा अनुसार कर सकते हैं।
  • पूरन पोली को आप दो या तीन दिनों तक स्टोर करके खा सकते हैं।
  • (मराठी पूरन पोली बनाने की विधि- Marathi Puran Poli Recipe in Hindi)